समस्तीपुर

समस्तीपुर : उच्च न्यायालय के आदेश पर हटाए गए नगर थानाध्यक्ष सह इंस्पेक्टर सीताराम प्रसाद

पटना हाईकोर्ट के आदेश पर एसपी विकाश बर्मन ने नगर थानाध्यक्ष सह इंस्पेक्टर सीताराम प्रसाद व दारोगा सरजू मिस्त्री को हटा दिया है। हालांकि इससे संबंधी आदेश चुनाव आयोजन की अनुमति आने पर जारी होगी। पुलिस प्रशासन ने हाईकोर्ट का हवाला देते हुए स्थानांतरण संबंधी अनुमति पत्र भेजा है।

मधुबनी से जिले में नए आए एक इंस्पेक्टर को नगर थानाध्यक्ष बनाने की चर्चा है। जबकि उनके स्थान पर नगर थानाध्यक्ष को भेजा जा रहा है। बताया गया है कि स्थानीय कोर्ट के वरीय अधिवक्ता आनंद किशोर सिन्हा ने पटना उच्च न्यायालय में एक याचिका दायर किया था।

वकील का क्या था आरोप

वकील का आरोप है कि काशीपुर में उनका मकान व कार्यालय है। अपनी संपत्ति के साथ परिवार की सुरक्षा की गुहार लगाई तो पुलिस ने आरोपी प्रमोदानंद प्रसाद से मिल कर उनके मकान व कार्यालय पर कब्जा करने के साथ ही लूट पाट की।

यह घटना 9 जून 2020 को घटी। फिर 6 सितंबर को आरोपितों ने दाेबारा मकान पर कब्जा करने के साथ ही उन्हें बेदखल कर दिया। शिकायत के बाद भी पुलिस ने कार्रवाई नहीं की। इसके बाद वकील श्री सिन्हा ने हाई कोर्ट में याचिका दायर की।

पटना हाई कोर्ट के आदेश के आलोक में नगर थानाध्यक्ष व दारोगा सरजू मिस्त्री को हटाने के लिए चुनाव आयोग से आदेश मांगा गया है। चुनाव आयोग का आदेश आते ही दोनों को हटा कर नये पदाधिकारी को जिम्मेवारी दी जाएगी। ताकि कांड का निष्पक्ष जांच हो सके।
विकाश बर्मन, एसपी

Share This Post