समस्तीपुर

रिंकू चौधरी की हत्या ने डेढ़ माह पूर्व मनमोहन झा की हत्या की याद भी ताजा कर दी ,प्रॉपर्टी डीलिग का था बिबाद

समस्तीपुर : सोमवार को सरेआम घर में बैठे प्रापर्टी डीलर रिकु चौधरी को गोलियों से छलनी कर दिया गया। अपराधियों ने घटनास्थल पर तीस राउंड से अधिक फायरिग की। शरीर में छह गोली उतारी और पांच मिनट में काम तमाम कर भाग निकले। मृतक के हाथ, छाती, पैर और सिर से छह गोलियां मिली है। वीडियो फुटेज में दो अलग-अलग बाइक से आए चार अपराधियों का सुराग पुलिस को मिला है। इसी फुटेज के आधार पर अपराधियों तक पहुंचने की कोशिश पुलिस कर रही है। देर रात पोस्टमार्टम के बाद रिकु के शव को स्वजनों को सौंप दिया गया। लेकिन इस घटना ने पुलिसिया व्यवस्था की पोल खोल कर रख दी है। इस घटना ने डेढ़ माह पूर्व मनमोहन झा की हत्या की याद भी ताजा कर दी। इसी अंदाज में मनमोहन की भी हत्या अपराधियों ने की थी।

पॉश इलाके में हुई वारदात से लोग दहशत में

शहर के काशीपुर ग‌र्ल्स हाई स्कूल के निकट पॉश इलाके में फिल्मी अंदाज में वारदात हुई और पुलिस तमाशबीन की भूमिका में रही। दो अलग-अलग बाइक पर सवार चार की संख्या में बदमाश आए और मकान में बैठे प्रॉपर्टी डीलर मुकेश कुमार उर्फ रिकू चौधरी को गोलियों से छलनी कर दिया। लगभग 30 राउंड से अधिक फायरिग की और पांच मिनट के अंतराल में घटना को अंजाम देकर भाग निकले। विरोध करने का लोगों को साहस नहीं हुआ। दहशत से मोहल्ले के लोगों ने खुद को घरों में बंद कर लिया। दुकानदारों ने शटर गिरा लिए। पुलिस के पहुंचने के बाद लोग बाहर निकले। घटनास्थल से पुलिस को पिस्टल का दस, थ्री नॉट थ्री का चार खोखा और एक पिलेट मिला। बदमाशों की तलाश में पुलिस संभावित ठिकानों पर दबिश बना रही है। इधर, घटना के बाद देर रात सदर अस्पताल में शव का अंत्यपरीक्षण कराया गया। मृतक के शरीर में हाथ, छाती, पैर और सिर से छह गोलियां मिली है। घटना के बाद आसपास दहशत का माहौल है। समाचार प्रेषण तक प्राथमिकी दर्ज नहीं कराई गई है। इसके कारण घटना के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है। नगर थानाध्यक्ष सीताराम प्रसाद ने बताया कि पुलिस मामले की जांच में जुटी है। आवेदन मिलते ही अग्रेतर कार्रवाई की जाएगी। अपराधियों के संभावित ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है।

घटना के वक्त मकान में पत्नी और बच्चे भी थे मौजूद

सरायरंजन थाना के अख्तियारपुर निवासी भूपेन्द्र चौधरी के पुत्र मृतक मुकेश कुमार उर्फ रिकू चौधरी का काशीपुर मुहल्ले में ग‌र्ल्स स्कूल के निकट अपना मकान है। यहां पत्नी और बच्चों के साथ रह रहते थे। मकान के ग्राउंड फ्लोर में एक निजी क्लिनिक है। जहां सोमवार की रात बरामदे पर बैठकर वे मोबाइल पर किसी से बात कर रहे थे। इसी बीच दो अलग अलग बाइक से आए चार की संख्या में अपराधियों ने अंधाधुंध फायरिग कर गोलियों से छलनी कर दिया। घटना के वक्त मकान में पत्नी और बच्चे भी मौजूद थे। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार रिकू चौधरी का प्रॉपर्टी डीलिग का कारोबार था। इसको लेकर कुछ लोगों से विवाद चल रहा था। हालांकि, अब तक की जांच में पुलिस कोई ठोस निष्कर्ष पर नहीं पहुंची है। लेकिन कयासों के आधार पर कई नाम सुर्खियों में है। खंगाले जा रहे सीसीटीवी कैमरे

प्रापर्टी डीलर रिकू चौधरी को गोली मारने की घटना का पुलिस को वीडियो फुटेज मिला है। दो अलग अलग बाइक से आए चार की संख्या में बदमाशों ने चेहरे पर नकाब लगा रखा था। उनके हाथ में सिगल शॉट थ्री नॉट थ्री और पिस्टल मौजूद था। ग्राउंड फ्लोर के बरामदे पर बैठे शख्स पर गोलियां बरसाई और हथियार लहराते हुए भाग निकले। जबकि, घटनास्थल के आसपास कई मेडिकल स्टोर की दुकान, क्लीनिक व बैंक व एटीएम है। देर रात तक लोगों की चहल पहल रहती है। बावजूद इसके बेखौफ होकर बदमाशों ने घटना को अंजाम दिया। घटनास्थल के आसपास लगे अन्य सीसीटीवी कैमरे को भी खंगाला जा रहा है।

प्रापर्टी डीलिग का कारोबार या वर्चस्व की लड़ाई

बीते दो माह के अंतराल में शहर के आसपास प्रापर्टी डीलिग में तीन लोगों की हत्या हो चुकी है। अपराधियों ने 9 जुलाई को शहर से सटे सोनवर्षा चौक पर सरायरंजन थाना के सलेमपुर निवासी प्रापर्टी डीलर मनमोहन झा को एक मकान के अंदर घुसकर गोलियों से छलनी कर दिया था। ठीक उसी अंदाज में रिकू की हत्या की गई। 12 अगस्त को मुसरीघरारी थाना के बरबट्टा पंचायत अंतर्गत सुआपाकर गांव में एक श्राद्धकर्म के भोज के दौरान आधा दर्जन हथियारबंद अपराधियों ने अंधाधुंध फायरिग कर महेश्वर राय के पुत्र लक्की कुमार को गोलियों से भून डाला। वहीं 28 अगस्त को उजियारपुर थाना क्षेत्र के सातनपुर चौक स्थित सरायरंजन रोड पर दिनदहाड़े मुसरीघरारी थाना के रूपौली निवासी संदीप चौधरी उर्फ नेपाली की गोली मारकर हत्या कर दी। इन सभी घटनाओं के पीछे कहीं न कहीं प्रापर्टी की दलाली और वर्चस्व की लड़ाई की बात सामने आ रही है। वर्जन

घटनास्थल का मुआयना करने के बाद पता लगा कि रिकू अपने मकान के बरामदे पर बैठे थे। इसी बीच बाइक से आए अपराधियों ने गोली मारकर उनकी हत्या कर दी। घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे को खंगाला जा रहा है। अपराधियों के संभावित ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है। जल्द ही सभी अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

प्रितिश कुमार, सदर डीएसपी

Share This Post