समस्तीपुर

समस्तीपुर जिले में अब होगी आरटी-पीसीआर से कोरोना की जांच ,24 घंटे के अंदर मिलेगी रिपोर्ट

समस्तीपुर। कोरोना के शोर के बीच राहत दिलाने वाली खबर हैं। कोरोना की रियल टाइम पेरीमिरेज चेन रिएक्शन (आरटी-पीसीआर) जांच जल्द ही अपने जिले में ही होने लगेगी। समस्तीपुर जिले के पास अब जल्द ही कोरोना जांच के लिए खुद का अपना आरटी-पीसीआर लैब का सेटअप होगा। राज्य स्तर से जिले में लैब स्थापित करने को लेकर अनुमति प्रदान कर दी गई है। ऐसे में जिले में आईसीएमआर द्वारा आरटी-पीसीआर लैब स्थापित होने से कोरोना जांच की गति में तेजी आएगी। जिसके बाद जिले में प्रत्येक दिन तकरीबन इससे दो हजार लोगों की जांच की जा सकेगी। कोरोना वायरस की जांच के लिए टेस्टिग लैब बनाने के निर्देश दिए गए है। इसी के कोरोना वायरस की जांच के लिए लैब बनाई जाएगी। यहां कोरोना की जांच होगी। यह लैब बायो सेफ्टी लेवल टू की होगी। यानी यहां सुरक्षित ढंग से नमूनों की सटीक जांच हो सकेगी। इतना ही नहीं जिले को कोरोना मरीजों की समुचित देखभाल के लिए भी कुल चार वेंटिलेटर मशीन उपलब्ध कराई गई है।

अब पटना नहीं भेजना पड़ेगा सैंपल

कोरोना से जंग जीतने के लिए सरकार द्वारा अब जिला स्तर पर ही कोरोना की अंतिम जांच की व्यवस्था की जा रही है। जिले में आरटी-पीसीआर मशीन उपलब्ध करा कराने की प्रक्रिया चल रही है। आरटी-पीसीआर मशीन लगने के बाद अब किसी भी प्रकार का सैंपल पटना नहीं भेजा जाएगा। वीटीएम जांच भी यही होगा। वर्तमान में एंटीजन और ट्रूनट जांच ही जिला में हो रही है। इसके अलावा आरटी-पीसीआर जांच के लिए सैंपल एम्स पटना भेजा जा रहा है। इस मशीन के लग जाने के बाद जांच में काफी सुविधा होगी।

रिपोर्ट मिलने में सहूलियत

आरटी-पीसीआर मशीन लग जाने के बाद अब जांच रिपोर्ट के लिए लोगों को ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ेगा। वर्तमान में आरटी-पीसीआर जांच रिपोर्ट आने में पटना से 3-4 दिन का समय लग जाता है। यह मशीन आ जाने के बाद 24 घंटे के अंदर जांच रिपोर्ट उपलब्ध हो जाएगी। सिविल सर्जन ने बताया कि आरटी-पीसीआर जांच कोरोना की अंतिम जांच होती है। इसमें आने वाली रिपोर्ट को ही सबसे बेहतर माना जाता है। एंटीजन जांच में निगेटिव आने के बाद लक्षण वाले मरीजों का कन्फर्मेशन के लिए आरटी-पीसीआर जांच के लिए सैंपल पटना भेजना पड़ता है। लेकिन अब जिले में ही कंफर्म कर दिया जाएगा।

24 घंटे के अंदर मिलेगी रिपोर्ट

मशीन लग जाने के बाद प्रति दिन लगभग दो हजार सैंपल की जांच होगी। 24 घंटा के अंदर सभी जांच की रिपोर्ट उपलब्ध होगी। अगर देर भी हुआ तो अगले दिन तक रिपोर्ट हाथ में होगी। उन्होंने कहा कि वर्तमान में वीटीएम जांच कराने के बाद लोग बाहर घुमते रहते हैं और तीन से चार दिन बाद पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद आइसोलेट होते हैं। जिसके कारण संक्रमण फैलने की संभावना बढ़ जाती है। आरटी-पीसीआर मशीन लग जाने के बाद 24 घंटे के अंदर ही सभी रिपोर्ट आ जाएगा और मरीज भी सावधान रहेंगे।

वर्जन

सदर अस्पताल में आरटी-पीसीआर लैब की स्थापना को लेकर प्रक्रिया चल रही है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से स्थल चयन को लेकर प्रक्रिया चल रही है। जल्द ही लैब की स्थापना को लेकर मशीन उपलब्ध कराए दिए जाएंगे। वर्तमान में आरटी-पीसीआर से जांच के लिए रिपोर्ट पटना भेजा जाता है। इस लैब के लगने के यहां जिले में जांच की सुविधा मिलनी शुरू हो जाएगी।

डॉ. सतीश कुमार सिन्हा,

सिविल सर्जन, समस्तीपुर।

Share This Post