बिहार समस्तीपुर

समस्तीपुर : अनुमंडल अस्पताल परिसर में आइसोलेटेड हैं कोरोना पॉजिटिव ,संक्रमण का खतरा बढ़ा

समस्तीपुर : अनुमंडल अस्पताल रोसड़ा परिसर स्थित आइसोलेशन सेंटर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों को आइसोलेटेड करने के कारण परिसर में संक्रमण का खतरा बढ़ गया है। चिकित्सक व कर्मियों के साथ-साथ ओपीडी में आने वाले मरीजों में भी कोरोना का दहशत व्याप्त हो गया है। यही कारण है कि विगत 2 दिनों से ओपीडी में पहुंचने वाले मरीजों की संख्या में काफी गिरावट आई है। जानकारी के अनुसार पूर्व में प्रतिदिन करीब दो सौ सामान्य मरीज ओपीडी में अपना इलाज कराने के लिए पहुंचते थे। लेकिन विगत 2 दिनों से इनकी संख्या घटकर 50 के करीब हो गई है। वही जननी बाल सुरक्षा योजना के तहत पहुंच रहे गर्भवती महिलाएं भी अब अस्पताल आने से परहेज करने लगी हैं। जानकारी के अनुसार अनुमंडल क्षेत्र में कोरोना पॉजिटिव पाए जाने वाले सभी मरीजों को रोसड़ा अस्पताल परिसर स्थित आइसोलेशन सेंटर में हीं रखा जा रहा है। वर्तमान में रोसड़ा, शिवाजीनगर, विथान एवं सिधिया के 18 संक्रमित मरीज आइसोलेशन सेंटर में भर्ती हैं। सेंटर से सटे भवन में सामान्य एवं गर्भवती मरीजों की जांच की जाती है। वही अस्पताल रोड से पीएचईडी एवं ब्लॉक जाने के लिए लोगों का आवाजाही भी बना रहता है जिसके कारण हमेशा संक्रमण के फैलाव की संभावना बनी हुई है। बताते चलें कि सरकार द्वारा प्रखंड स्तर पर आइसोलेशन सेंटर स्थापित करने की घोषणा की जा चुकी है उक्त आलोक में रोसड़ा मे नंद चौक के निकट होटल अतिथि को चिन्हित कर आइसोलेशन सेंटर में परिणत भी किया जा चुका है। बावजूद रोसड़ा समेत सभी प्रखंडों के पॉजिटिव मरीजों को अस्पताल परिसर स्थित सेंटर में रखना चिकित्सक कर्मियों तथा आम मरीजों के लिए परेशानी का कारण बन सकता है। सूत्रों की मानें तो एक भी चिकित्सक या कर्मी को संक्रमित पाए जाने पर 24 घंटे के लिए अस्पताल को पूर्णत: सील कर दिया जाएगा और उस वक्त निश्चित रूप से विषम परिस्थिति उत्पन्न हो सकती है। इस संबंध में पूछे जाने पर अस्पताल के उपाधीक्षक डॉ राणा विश्व विजय प्रताप सिंह ने बताया कि वर्तमान व्यवस्था और स्थिति की जानकारी वरीय पदाधिकारी को दी जा चुकी है।

Share This Post