समस्तीपुर

समस्तीपुर को मिले 41 विशेषज्ञ चिकित्सक, अब सुधरेगी चिकित्सा व्यवस्था

समस्तीपुर । चिकित्सकों की कमी से जूझ रहे स्वास्थ्य विभाग के गलियारे से अच्छी खबर आयी है। सरकार ने 41 विशेषज्ञों चिकित्सकों का पदस्थापन समस्तीपुर जिले में किया है। पूर्व से कार्यरत चिकित्सकों के अलावा विशेषज्ञों चिकित्सकों की तैनाती के बाद अस्पतालों में मरीजों को काफी हद तक परेशानी से मुक्ति मिलने की उम्मीद है। इसमें सदर अस्पताल में 19 नए विशेषज्ञ चिकित्सकों को तैनात किया गया है। शिशु रोग विशेषज्ञ के पद पर नौ, जेनरल सर्जन के पद पर आठ, मू‌र्च्छक के पद पर सात, स्त्री रोग विशेषज्ञ के पद पर छह, फिजिशियन के पद पर पांच, हड्डी रोग के पद पर तीन, रेडियोलॉजी, माईक्रोबायोलॉजी और नेत्र रोग के पद पर एक-एक विशेषज्ञ चिकित्सा पदाधिकारी को पदस्थापित किया गया है। स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने के लिए राज्य सरकार ने 41 चिकित्सक जिले में तैनात किया है। विशेषज्ञ चिकित्सकों की तैनाती होने से अब मरीजों का बेहतर चिकित्सा सदर अस्पताल व अनुमंडलीय अस्पतालों में ही हो पाएगा। सरकार द्वारा सुसज्जित अस्पताल बनाया गया है। अत्याधुनिक उपकरण की व्यवस्था कर दी गयी है। लेकिन चिकित्सक की कमी के कारण सर्वाधिक परेशानी हो रही थी। चिकित्सकों की नई तैनाती के बाद अस्पतालों की दशा सुधरने की संभावना जताई जा रही है।

इलाज के लिए भटकने से मिलेगी निजात

अब मरीजों को इलाज के लिए इधर-उधर भटकना नहीं पड़ेगा। इलाज के नाम पर खानापूर्ति कर रेफर की बनी परंपरा अब समाप्त होने वाली है। अब स्वास्थ्य प्रशासन चिकित्सक की कमी का बहाना नहीं बना पाएंगे। अनुमंडलीय अस्पतालों से लेकर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र तक में भी मरीजों को उचित चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने की व्यवस्था की गई है।

जिले के लोगों को शिशुओं के स्वास्थ्य की होगी बेहतर देखभाल

शिशु रोग विशेषज्ञ के पद पर सदर अस्पताल समस्तीपुर में डॉ. राजेश कुमार, डॉ. अमित कुमार, डॉ. नागमणि राज, अनुमंडलीय अस्पताल रोसड़ा में डॉ. जय प्रकाश कुशवाहा, अनुमंडलीय अस्पताल दलसिंहसराय में डॉ. विनोद कुमार सिंह, डॉ. आशुतोष कुमार, अनुमंडलीय अस्पताल पटोरी में डॉ. मो. जावेद, अनुमंडलीय अस्पताल पूसा में डॉ. कृष्ण केशव, डॉ. संजीव कुमार को पदस्थापित किया गया है।

सर्जन की तैनाती से मरीजों को मिलेगा लाभ

जेनरल सर्जरी के पद पर सदर अस्पताल में डॉ. मनीष साह, अनुमंडलीय अस्पताल दलसिंहसराय में डॉ. गोविद सिंह, डॉ. संजय कुमार, अनुमंडलीय अस्पताल पटोरी में डॉ. दीपक कुमार झा, अनुमंडलीय अस्पताल पूसा में डॉ. राम कुमार पंडित, डॉ. तुषार सिंह, अनुमंडलीय अस्पताल रोसड़ा में डॉ. कुमार विक्रम, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हसनपुर में डॉ. संजय कुमार विद्यार्थी को पदस्थापित किया गया है।

गर्भवती महिलाओं के प्रसव में होगी सहूलियत

स्त्री रोग विशेषज्ञ के पद पर सदर अस्पताल में डॉ. रुही यास्मीन, डॉ. मंजुला भगत, डॉ. दिव्या सुमन, अनुमंडलीय अस्पताल दलसिंहसराय में डॉ. कुमारी सुमन, अनुमंडलीय अस्पताल पटोरी में डॉ. कंचन कुमारी, अनुमंडलीय अस्पताल रोसड़ा में डॉ. श्वाति को पदस्थापित किया गया है।

बेहोशी के लिए मरीज को नहीं करना पड़ेगा रेफर

सदर अस्पताल में मू‌र्च्छक के चिकित्सक का अभाव रहने की वजह से आए दिन ऑपरेशन में परेशानी होती थी। मरीजों को रेफर कर दिया जाता था। ऐसे में मू‌र्च्छक के पद पर सदर अस्पताल में डॉ. आदित्य कुमार केजरीवाल, डॉ. तुलिका सिंह, डॉ. श्वेता चंद्रा, डॉ. अरशिया हसन, डॉ. आलोक हिमांशु, डॉ. कुमार नवजीत, अनुमंडलीय अस्पताल दलसिंहसराय में डॉ. प्रीति कुमारी को पदस्थापित किया गया है।

हड्डी रोग का अनुमंडल अस्पताल में भी होगा इलाज

हड्डी रोग के पद पर अनुमंडलीय अस्पताल रोसड़ा में डॉ. आनंद शंकर, अनुमंडलीय अस्पताल दलसिंहसराय में डॉ. आभास कुमार, अनुमंडलीय अस्पताल पटोरी में श्रवण कुमार सिंह को पदस्थापित किया गया है। रेडियोलॉजी के पद पर सदर अस्पताल में डॉ. बलराम प्रसाद, माईक्रोबायोलॉजी के पद पर सदर अस्पताल में डॉ. नीतू कुमारी, नेत्र रोग के पद पर डॉ. पवन कुमार को पदस्थापित किया गया है।

फिजिशियन से भी करा सकेंगे इलाज

सदर अस्पताल में फिजिशियन के पद पर विशेषज्ञ चिकित्सक नहीं रहने की वजह से मरीजों को सामान्य चिकित्सक से ही इलाज कराना पड़ रहा था। ऐसे में फिजिशियन के पद पर सदर अस्पताल में डॉ. अजय राम, डॉ. शिखा, डॉ. नवनीत रौशन, अनुमंडलीय अस्पताल दलसिंहसराय में डॉ. विजय कुमार यादव, अनुमंडलीय अस्पताल पटोरी में डॉ. रजनीश कुमार को पदस्थापित किया गया है।

वर्जन

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जिले में 41 विशेषज्ञ चिकित्सकों को पदस्थापित किया गया था। इस संबंध में पत्र जारी किया गया है। चिकित्सकों के तैनाती होने के बाद मरीजों को पहले से और भी अधिक बेहतर चिकित्सकीय सुविधा मिलनी शुरू हो जाएगी। सिर्फ सदर अस्पताल में 19 विशेषज्ञ चिकित्सक पदस्थापित किए गए है।

डॉ. सतीश कुमार सिन्हा

सिविल सर्जन, समस्तीपुर।

Share This Post