बिहार

कुछ देर में पटना एयरपोर्ट पहुंचेगा रामविलास पासवान का पार्थिव शरीर, बेटी और दामाद को नहीं मिला प्रवेश

दिवंगत केंद्रीय मंत्री और लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) के संस्थापक रामविलास पासवान का पार्थिव शरीर कुछ देर में ही पटना एयरपोर्ट पर पहुंचने वाला है। एयरपोर्ट पर सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किये गए हैं। इस बीच एयरपोर्ट पर राजनेताओं का जुटना शुरू हो चुका है। सूबे के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, जाप नेता पप्पू यादव समेत कई और नेता और लोजपा के कार्यकर्ता एयरपोर्ट पर मौजूद हैं। पप्पू यादव, रामविलास पासवान की बेटी आशा पासवान और दामाद अनिल कुमार को एयरपोर्ट के भीतर सुरक्षाकर्मियों ने नहीं जाने दिया। जिला प्रशासन के द्वारा उपलब्ध कराई गई सूची के अनुसार ही स्टेट हैंगर की ओर मिल रहा आगंतुकों को प्रवेश करने दिया जा रहा है।

रामविलास पासवान का शनिवार को पटना में अंतिम संस्कार होगा। शुक्रवार को पासवान के पार्थिव शरीर को दिल्ली स्थित उनके आवास पर अंतिम दर्शन के लिए रखा गया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी सहित कई केंद्रीय मंत्री और नेताओं ने रामविलास पासवान का अंतिम दर्शन किया और उन्हें श्रद्धांजलि दी।


लंबी बीमारी के बाद गुरुवार देर शाम रामविलास का निधन हो गया। वे 74 वर्ष के थे। पासवान पिछले कई दिनों से दिल्ली के एक निजी अस्पताल में भर्ती थे। अभी कुछ दिनों पहले ही उनके दिल का ऑपरेशन भी हुआ था। राम विलास पासवान पांच दशक से अधिक समय से सक्रिय राजनीति में थे और देश के जाने-माने दलित नेताओं में से एक थे। मोदी कैबिनेट में वे उपभोक्ता, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मामलों के मंत्री थे। उनके निधन के बाद इस मंत्रालय का प्रभार केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल को दिया गया है।

Share This Post