Bihar Election 2020
बिहार विधानसभा चुनाव 2020

बिहार में दूसरे चरण का मुकाबला कल, इन हॉट सीटों पर पूरे देश की निगाहें

बिहार विधानसभा चुनाव अब अपने दूसरे पड़ाव की ओर बढ़ चला है। राज्य की 94 विधानसभा सीटों पर दूसरे चरण में तीन नवंबर को वोट डाले जाएंगे। इस चरण में बिहार के कई दिग्गजों के भाग्य का फैसला जनता करेगी। इस चरण में कई ऐसी सीटें हैं, जिनपर सिर्फ बिहार की ही नहीं, बल्कि पूरे देश की निगाहें टिकी हैं। पूर्व मंत्री से लेकर मुख्यमंत्री के दावेदारों तक की सीटों पर इस चरण में मतदान होंगे। आइए जानते हैं दूसरे चरण की हॉट सीटों पर किसकी टक्कर किससे है।

राघोपुर: वैशाली जिले की राघोपुर विधानसभा सीट से आरजेडी नेता तेजस्वी यादव दूसरी बार चुनावी मैदान में हैं। तेजस्वी को महागठबंधन ने मुख्यमंत्री का चेहरा बनाया है, जिसकी वजह से इस सीट पर पूरे देश की नजर है। बीजेपी  ने उनके सामने सतीश कुमार को उतारा है। सतीश, 2010 के चुनाव में पूर्व सीएम राबड़ी देवी को हरा चुके हैं। वहीं, एलजेपी की ओर से मैदान में उतारे गए राकेश रौशन ने यहां मुकाबले को त्रिकोणीय बना दिया है।

हसनपुर: समस्तीपुर जिले की हसनपुर विधानसभा सीट से पूर्व सीएम लालू प्रसाद यादव के बड़े लाल और पूर्व मंत्री तेजप्रताप यादव चुनाव लड़ रहे हैं। 2015 में उन्होंने महुआ से चुनाव जीता था। लेकिन इस बार उन्होंने अपनी सीट बदल दी है। उनके सामने जेडीयू के वर्तमान विधायक राजकुमार राय चुनावी ताल ठोक रहे हैं। यादव बाहुल्य इस सीट पर कांटे का मुकाबला है।

बांकीपुर: पटना जिले की बांकीपुर विधानसभा सीट खूब सुर्खियों में हैं। इस सीट से अभिनेता और पूर्व सांसद शत्रुघ्न सिन्हा के बेटे लव सिन्हा कांग्रेस के टिकट पर चुनावी मैदान में हैं। बीजेपी के मौजूदा विधायक नितिन नवीन के अलावा प्लुरल्स पार्टी की अध्यक्ष और सीएम उम्मीदवार पुष्पम प्रिया भी चुनौती पेश कर रही हैं।

परसा: दूसरे चरण की हॉट सीटों में शामिल सारण जिले की परसा विधानसभा सीट पर इस बार कड़ा मुकाबला है। जेडीयू ने यहां से पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के समधी चंद्रिका राय को उतारा है। आरजेडी के टिकट पर इस सीट से छोटे लाल राय चुनाव मैदान में हैं। एलजेपी ने इस सीट राकेश कुमार सिंह को उतारा है।

चेरिया बरियारपुर: चेरिया बरियारपुर विधानसभा सीट से नीतीश सरकार में समाज कल्याण मंत्री रहीं मंजू वर्मा को जेडीयू ने फिर से उतारा है। उनके सामने महागठबंधन से आरजेडी उम्‍मीदवार राजवंशी महतो मैदान में हैं। एलजेपी ने राखी देवी को प्रत्‍याशी बनाया है। मुजफ्फरपुर शेल्टर होम कांड के कारण मंजू वर्मा को पद छोड़ना पड़ा था।

शिवहर: जेल में बंद बाहुबली आनंद मोहन के बेटे चेतन आनंद को आरजेडी ने शिवहर सीट से उतारा है। उनका मुकाबला जेडीयू के मौजूदा विधायक मो. शरफुद्दीन से है। इस सीट पर इस बार एलजेपी के प्रत्याशी विजय कुमार पांडेय न केवल जेडीयू और आरजेडी को कड़ी टक्कर देते नजर आ रहे हैं, बल्कि लड़ाई को त्रिकोणीय भी बना रहे हैं।

Share This Post