Women Found in river ganaga
बिहार

रातभर गंगा में बहती रही महिला, लोगों ने लाश समझा लेकिन निकली जिंदा

बिहार के वैशाली जिले में एक अचंभित करने वाली घटना सामने आई है। पीपा पुल से बेहोशी की हालत में गंगा नदी में गिरी महिला 12 घंटे तक पानी के बहाव में ही बहती रही। इस दौरान वह दस किलोमीटर तक बह गई। मछुआरों ने उसे बहते देखा और बाहर निकाला तो सांसें चल रही थीं। तत्काल उसे अस्पताल पहुंचाया गया। जहां अब उसकी हालत ठीक बताई जा रही है।  

राघोपुर दियारा की रहने वाली अनिता देर शाम गंगा नदी पर बने पीपा पुल से ऑटो से गुजर रही थी। चक्कर आने की वजह से ऑटो से उतरकर पीपा पुल पर बैठ गई। इसी दौरान बेहोश होने से फिसलकर नदी में जा गिरी। रात भर महिला नदी के बहाव में बहती रही।

कई लोगों ने इस दौरान उसे बहते देखा लेकिन लाश समझा। 12 घंटे में महिला पीपा पुल से करीब 10 किलोमीटर दूर तक बहकर चली आई। सुबह-सुबह मछुआरों की एक टोली ने महिला को पानी की धारा के साथ बहते देखा तो बाहर निकाला। मछुआरे यह देखकर अचंभित रह गए कि महिला की सांसें चल रही थीं।

रात भर नदी के ठंडे पानी में रहने के कारण महिला की हालत बेहद नाजुक थी। महिला को आननफानन स्‍थानीय अस्‍पताल लाया गया जहां डॉक्‍टरों ने इलाज शुरू किया। गर्म कपड़ों और हीटर की मदद से कुछ देर में ही उसे होश आ गया। उसे होश में आते ही हर कोई उसकी बातें सुन अचंभित रह गया। 

Share This Post