बिहार समस्तीपुर

समस्तीपुर में 45 साल से ऊपर वाले के लिए नहीं है टीका

समस्तीपुर में बार-बार डोज की कमी से टीकाकरण अभियान प्रभावित हो रहा है। मांग के अनुसार टीका आवंटित नहीं होने से जिले में अभियान को लगातार जारी नहीं रह पा रहा है। मंगलवार को भी एक बार फिर डोज के अभाव में टीकाकरण अभियान प्रभावित हुआ। पिछले दो दिनों से डोज की कमी के कारण 45 से अधिक उम्र वाले लाभुकों का टीकाकरण नहीं हो पा रहा है। जिससे वैक्सीन लेने के लिए जागरुक लाभुकों को केंद्रों से बैरंग लौटना पड़ रहा है। हालांकि टीकाकरण अभियान को सुचारु रुप से संचालन के लिए जिले में दो से तीन पंचायतों को लेकर 203 स्थायी बूथ बनाया गया है। जहां उपलब्ध डोज के अनुसार लाभुकों को टीका लगाया जाएगा। लेकिन फिलहाल जिले में 45 से अधिक उम्र के लाभुकों का डोज उपलब्ध नहीं होने के कारण दो दिनों से टीकाकरण बाधित है। हालांकि कुछ वैक्सीनेशन सेंटरों पर शेष बचे डोज रविवार को खत्म किया गया। लेकिन मंगलवार को डोज के अभाव में पूरी तरह टीकाकरण कार्य बाधित रहा। डीआईओ डॉ. सतीश कुमार सिंहा ने बताया कि डोज के अभाव में टीकाकरण बंद है। दवा आवंटित होने के बाद ही टीकाकरण शुरु हो पाएगा। फिलहाल कब तक दवा आवंटित होगा, इसकी कोई सूचना नहीं है। सीएस डॉ. सत्येंद्र कुमार गुप्ता ने बताया कि वैक्सीन नहीं होने की सूचना मुख्यालय को दी गयी है। वैक्सीन आने के बाद ही आवंटित हो पाएगा।

अफवाहों से बचने की जरुर:

टीका लेने को लेकर तरह-तरह के अफवाह फैलायी जा रही है। इसको लेकर खासकर 45 से अधिक उम्र वाले लाभुकों के बीच भ्रम की स्थिति उत्पन्न हो गयी है। कई लाभुक पहला डोज लेने के बावजूद दूसरा डोज लेने में आनाकानी करते हैं। हालांकि सीएस डॉ. सत्येंद्र कुमार गुप्ता ने बताया कि लोगों को अफवाहों से बचने की जरुरत है। टीका पूरी तरह सुरक्षित है। सभी लोगों को समय से टीका लेना चाहिए। अफवाह फैलाने वाले की पहचान होने पर उसके विरुद्ध कारवाई की जाएगी। सीएस ने कहा कि लोगों से अपील की जाती है कि वे अफवाहों पर नहीं अपने स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें।

368695 को लगाया गया टीका:

समस्तीपुर जिले में अब तक मात्र तीन लाख 68 हजार 695 लोगों को ही टीका लगाया गया है। इसमें दो लाख 88 हजार 598 लोगों को पहला डोज दिया गया, जबकि 80 हजार 97 लोगों को दूसरा डोज दिया गया है। इसमें 45 से 59 वर्ष के बीच के लाभुकों में 95 हजार 909 लोगों को पहला डोज एवं 24 हजार 639 लोगों ने दूसरा डोज दिया। वहीं 60 वर्ष से अधिक उम्र के लाभुकों में एक लाख 28 हजार 335 लोगों ने पहला डोज एवं 35 हजार 14 लोगों ने दूसरा डोज का टीका लिया है।

Share This Post