राष्ट्रीय

Unlock States: MP-UP समेत ये राज्य एक जून से होंगे अनलॉक, जानिए क्या खुलेगा-क्या रहेगा बंद

देश में कोरोना वायरस के दैनिक मामलों में कमी आने लगी है। पिछले महीने कहर बरपाने के बाद महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, दिल्ली आदि में कोरोना के मामलों में काफी तेजी से कमी आई है। मामले बढ़ने के बाद विभिन्न राज्यों में लगाए गए लॉकडाउन के बाद अब अनलॉक का प्रोसेस शुरू हो गया है। हालांकि, कुछ ऐसे राज्य हैं, जहां पर अनलॉक प्रोसेस को अभी नहीं शुरू किया जा रहा है, जबकि कई राज्यों में कुछ हद तक पाबंदी में ढील दी जा रही है। दिल्ली में अनलॉक प्रक्रिया आज से ही शुरू हो गई, जबकि मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश आदि में एक जून से लॉकडाउन जैसी पाबंदियां हटाई जाने लगेंगी। यहां जानिए, किन राज्यों में एक जून से कोरोना कर्फ्यू या फिर लॉकडाउन में ढील दी जा रही है…

MP: एक जून से ऑफिस आएंगे 50% कर्मचारी
मध्य प्रदेश सरकार ने निर्देश दिए कि एक जून से सरकारी कार्यालय शत-प्रतिशत अधिकारियों एवं 50 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ संचालित किए जाएंगे। मध्य प्रदेश जनसंपर्क विभाग के एक अधिकारी ने बताया, ”राज्य शासन द्वारा जारी निर्देशों के अनुसार एक जून 2021 से सभी शासकीय कार्यालयों में शत-प्रतिशत अधिकारी उपस्थित रहेंगे। निर्देशों में कहा गया है कि अत्यावश्यक सेवाएं देने वाले कार्यालयों को छोडकर शेष कार्यालय 100 प्रतिशत अधिकारियों एवं 50 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ संचालित किये जाएंगे।” उन्होंने कहा कि अत्यावश्यक सेवाओं में कलेक्ट्रेट, पुलिस, आपदा प्रबंधन, फायर, स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा, जेल, राजस्व, पेयजल आपूर्ति, नगरीय प्रशासन, ग्रामीण विकास, विद्युत प्रदाय, सार्वजनिक परिवहन, कोषालय और पंजीयन सम्मिलित हैं। इसके अतिरिक्त भी अत्यावश्यक सेवाओं का निर्धारण जिला कलेक्टर कर सकेंगे। 

उत्तर प्रदेश: कई जिलों में शाम सात बजे तक खुलेंगी दुकानें
योगी सरकार की नई गाइडलाइन के अनुसार 1 जून से यूपी के उन जिलों में जहां पर 600 से ज्यादा एक्टिव केस हैं, उन जनपदों को छोड़कर अन्य जगहों पर सुबह 7 से शाम 7  बजे तक कोरोना कर्फ्यू में कुछ शर्तों के साथ ढील दी गई है। शनिवार-रविवार साप्ताहिक बंदी के साथ नाइट कर्फ्यू जारी रहेगा। 600 से अधिक कोरोना केस वाले जिलों को फिलहाल अभी कोई छूट नहीं दी जाएगी। जारी गाइडलाइन में कहा गया है कि कोरोना के अभियान से जुड़े फ्रंटलाइन सरकारी विभागों में पूर्ण उपस्थिति रहेगी एवं शेष सरकारी कार्यालय अधिकतम 50% उपस्थिति के साथ खुलेंगे और उसमें 50% कर्मी ही रहेंगे। निजी कंपनियों के कार्यालय भी मास्क की अनिवार्यता के साथ खोले जा सकेंगे। औद्योगिक संस्थान खुले रहेंगे।सब्जी मंडी पूर्व की भांति खुली रहेंगी प्रत्येक सब्जी मंडल स्थल में कोविड-19 की स्थापना की अनिवार्यता होगी। स्कूल कॉलेज तथा शिक्षा संस्थान शिक्षण कार्य हेतु बंद रहेंगे। 

अनलॉक की ओर बढ़ी दिल्ली
लॉकडाउन के 41 दिन बाद दिल्ली भी अनलॉक की तरफ बढ़ गई। अनलॉक-1 में सरकार ने सिर्फ निर्माण गतिविधियों और औद्योगिक इकाइयों को छूट दी है। वहीं, औद्योगिक इकाइयां चलेंगी जो सरकार की ओर से मंजूरी क्षेत्र में चल रही होंगी। छूट के साथ ही सरकार ने कोविड संक्रमण को रोकने के लिए कई दिशा-निर्देश भी जारी किए हैं, जिसका पालन अनिवार्य होगा। वहीं, बाजार, मॉल, मेट्रो अभी बंद रहेंगे। सात दिन बाद लॉकडाउन से राहत पर दोबारा विचार किया जाएगा। बता दें कि दिल्ली में बीते 20 अप्रैल को लॉकडाउन लगाया गया था। उसके बाद संक्रमण के चलते पांच बार इसे बढ़ाया गया है। आखिरी बार 23 मई को लॉकडाउन बढ़ाया गया था। अब सरकार अनलॉक की प्रक्रिया शुरू कर रही है। मगर अभी सिर्फ दो क्षेत्रों को ही राहत दी गई है।

जम्मू-कश्मीर में भी एक जून से अनलॉक की प्रक्रिया शुरू
जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने भी केन्द्र शासित प्रदेश में अनलॉक की प्रक्रिया शुरू कर दी है। कोरोना कर्फ्यू केवल रात्रि और सप्ताहांत में लागू रहेगा। हालांकि शैक्षिक संस्थान 15 जून तक बंद रहेंगे जबकि सिनेमाघर, मल्टीप्लेक्स , क्लब, जिम, मसाज सेंटर और भुगतान आधारित पार्क अगले आदेश तक बंद रखने का निर्देश दिया गया है। कश्मीर घाटी के 10 जिलों में से पुलवामा, अनंतनाग, बारामुला, बडगाम और कुपवाड़ा को ‘रेड जबकि श्रीनगर, शोपियां, गांदेरबल, कुलगाम और बांदीपुरा को ऑरेंज श्रेणी में रखा है। जम्मू में भी आंशिक रूप से खुले बाजारों में पुलिसकर्मी लगातार निगरानी कर रहे हैं और लोगों से कोविड के संबंध में उपयुक्त व्यवहार का पालन करने को कहा।

सात जून तक हरियाणा में बढ़ा लॉकडाउन
हरियाणा में कोविड-19 की रोकथाम के लिए लॉकडाउन को एक हफ्ते के लिए यानी सात जून तक बढ़ा दिया गया। राज्य सरकार ने दुकानें खोलने के वक्त और मॉल पर लगाई गई पाबंदियों में ढील देने की जानकारी भी दी। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि भले ही राज्य में कोविड-19 की स्थिति में सुधार हुआ हो, लेकिन यह फैसला किया गया है कि महामारी अलर्ट/ सुरक्षित हरियाणा लॉकडाउन को कुछ और रियायतों के साथ सात जून सुबह पांच बजे तक बढ़ाया जाएगा। उन्होंने कहा कि जिन दुकानों को पूर्व में सम-विषम आधार पर सुबह सात बजे से दोपहर 12 बजे तक खोलने की अनुमति दी गई थी वे अब सुबह नौ बजे से दोपहर तीन बजे तक खुल सकेंगी। 

महाराष्ट्र में 15 जून तक बढ़ा लॉकडाउन
महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में कमी आने के बावजूद राज्य सरकार ने रविवार को लॉकडाउन 15 जून तक के लिए आगे बढ़ा दिया है। हालांकि, पाबंदियों में थोड़ी ढील दी है। सरकार की ओर से रविवार को जारी नई गाइडलाइंस के मुताबिक, राज्य में सभी आवश्यक चीजों की दुकानें जो कि वर्तमान में सुबह 7 से 11 बजे तक खुलती थीं, वो अब सुबह 7 से दोपहर 2 बजे खुलने की अनुमति दी जा सकती है। सरकार ने एक आदेश में कहा कि जिन नगर निगमों एवं जिले में संक्रमण की दर 10 फीसदी से नीचे है और ऑक्सीजन वाले बिस्तर 40 फीसदी से कम भरे हैं, उन जगहों पर प्रतिष्ठानों, दुकानों एवं अन्य सेवाओं का समय सुबह सात बजे से दोपहर दो बजे तक किया जा सकता है जो फिलहाल सुबह सात बजे से दोपहर 11 बजे तक ही है।इस आर्टिकल को शेयर करें

Share This Post