BJP Bihar Ministers
राजनीति

बदली-बदली सी है इस बार की नीतीश सरकार, BJP ने पूरा घर बदल डाला

बिहार विधानसभा चुनाव में 125 सीटों पर जीत दर्ज करने के साथ ही आज नीतीश कुमार ने सातवीं बार बिहार में मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली है। उनके अलावा 14 और विधायकों और एमएलसी ने मंत्री पद की शपथ ली है। नीतीश कुमार की कैबिनेट पूरी तरह से एक अलग रंग में दिख रही है। काफी चेहरे बदले हुए हैं।

बिहार में एनडीए सरकार की शुरुआती दौर से ही नीतीश कुमार के साथ उपमुख्यमंत्री पद की शपथ लेने वाले सुशील मोदी की जगह तारकिशोर प्रसाद सिंह और रेणु देवी को बीजेपी ने उपमुख्यमंत्री बनाया है। बीजेपी कोटे से मंत्री बनने वाले सात चेहरे में मंगल पांडेय को छोड़कर सभी पहली बार बिहार कैबिनेट में शामिल हुए हैं।

आज के शपथग्रहण समारोह में बीजेपी के जिन बड़े नेताओं को जगह नहीं मिली है, उनमें सुशील मोदी, प्रेम कुमार, नंद किशोर यादव, विजय सिन्हा और विनोद नारायण झा का नाम शामिल है। 

वहीं, जेडीयू की बात करें तो नीतीश कुमार ने अपने अधिकांश सिपहसलारों पर भरोसा जताया है। अशोक चौधरी, बिजेंद्र यादव, अशोक चौधरी को फिर से अपनी कैबिनेट में जगह दी है। पहली बार विधायक बनी शीला मंडल को मंत्री बनाया है। हालांकि आज के शपथग्रहण समारोह में नीतीश कुमार के करीबी माने जाने वाले और पूरे चुनाव प्रचार के दौरान साए की तरह साथ रहने वाले संजय झा,  पूर्व मंत्री महेश्वर हजारी और नालंदा से आने वाले श्रवण कुमार जैसे नामों को शामिल नहीं किया गया।

बिहार में विधानसभा चुनाव 2020 में जीत के बाद आज एनडीए की नई सरकार का गठन हो गया है। नीतीश कुमार ने सातवीं बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है। राज्यपाल फागू चौहान ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। उनके बाद बीजेपी के तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी ने शपथ ली। कुल 14 मंत्रियों ने शपथ ली है। 5 मंत्री जेडीयू कोटे से बने हैं तो सात मंत्री बीजेपी के हैं। 1-1 पद हम और वीआईपी को मिला है। शपथ ग्रहण समारोह में नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली केंद्रीय मंत्रिमंडल के गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भी राजभवन पहुंचे। तेजस्वी यादव ने नीतीश को बधाई देने के साथ तंज कसते हुए उन्हें मनोनीत मुख्यमंत्री बताया। 

Share This Post