उत्तर प्रदेश

वेस्ट यूपी में योगी सरकार का शिकंजा, जेल में बंद सुनील राठी के तीन मकान कुर्क, एक गाड़ी सीज

पूर्वाँचल में अतीक अहमद और मुख्तार अंसारी पर कार्रवाई करने के बाद याेगी सरकार की पुलिस ने वेस्ट यूपी में बदमाशों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। कुख्यात और मुन्ना बजरंगी की जेल में हत्या के आरोपी सुनील राठी पर प्रशासन ने शिकंजा कस दिया है। उत्तर प्रदेश गैंगस्टर एक्ट के तहत सुनील राठी के टीकरी कस्बे में स्थित तीन मकान कुर्क कर दिया और एक गाड़ी को सीज किया है।

टीकरी कस्बे की पूर्व चेयरमैन राजबाला के बेटे कुख्यात सुनील राठी पर गैंगस्टर की कार्रवाई को लेकर रविवार को सीओ बड़ौत आलोक सिंह व सीओ बागपत ओमपाल सिंह के नेतृत्व में 6 थानों की पुलिस टीकरी पहुची,जहां पर सुनील राठी के मकान की कुर्की की। परिवार के लोगो ने विरोध किया,लेकिन पुलिस बल के सामने उनकी एक नही चली।

दरअसल, जिलाधिकारी बागपत के निर्देश पर रविवार को टीकरी कस्बे में कुख्यात सुनील राठी के आवास (अवैध सम्पत्ति) को कुर्क करने की कार्यवाही की गई। इस दौरान जनपद के 6 थानों के बड़ी संख्या में पुलिसबल व प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहे। सुनील राठी की माँ राजबाला चौधरी पत्नी स्व. नरेश राठी (पूर्व नगर पंचायत अध्यक्षा), वीरेंद्र व विक्रम पुत्रगण पुत्रगण पलेट सिंह (सुनील राठी के चाचा) पर गैंगस्टर के तहत कार्रवाही की गयी है जिनपर हरिद्वार, दिल्ली, मेरठ व बागपत के दोघट थानों में हत्या, लूट, अपहरण, हत्या का प्रयास, धोखाधड़ी समेत अन्य मामले दर्ज है। इन तीनों पर न्यायालय के आदेश पर प्रशासन ने अवैध सम्पत्ति रखने की कार्यवाही की है। इन अवैध सम्पत्ति की कुल कीमत 1.25 करोड़ के लगभग आंकी गयी है इनमे 3 मकान व एक फॉर्च्यूनर कार शामिल है। कार सुनील राठी की पत्नी दीपाली के नाम है। पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों की मौजदूगी में इस अवैध सम्पत्ति को सील करने की कार्यवाही की जा रही है।

Share This Post