patna metro/samachar9
राष्ट्रीय

अनलॉक-4 की गाइडलाइन जारी, मेट्रो खोलने का निर्देश, स्कूल और कॉलेज रहेंगे………

करोना वायरस की रोकथाम को लेकर लागू लॉकडाउन के बाद अनलॉक का तीसरा चरण कल खत्म होने वाला है. 1 सितंबर से पूरा देश में अनलॉक 4.0 की शुरुआत हो जाएगी. भारत सरकार ने अनलॉक 4.0 को लेकर नई गाइडलाइन जारी कर दिया है. सरकार ने 7 सितंबर मेट्रो को सरकार की ओर से जारी एसओपी का ख्याल रखते हुए चालू करने का निर्देश दिया है .

भारत सरकार ने फिलहाल 30 सितंबर तक स्कूल, कॉलेज  और अन्य शैक्षणिक संस्थानों को बंद रखने का आदेश दिया है. गाइडलाइन में कहा गया है कि एक सिस्टम के तहत मेट्रो सेवाएं शुरू की जाएंगी. यानी फिलहाल पहले की तरह मेट्रो में भीड़ होगी. इसके लिए एक सिस्टम बनेगा. इसके अलावा जो ओपन एयर थिएटर्स हैं वो भी 21 सितंबर 2020 से खोल दिए जाएंगे. आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय और रेल मंत्रालय द्वारा केंद्रीय गृह मंत्रालय के साथ परामर्श के बाद मेट्रो रेल को 7 सितंबर से क्रमबद्ध तरीके से संचालित करने की अनुमति दी जाएगी.

गृह मंत्रालय की ओर से जारी गाइडलाइंस के मुताबिक, 21 सितंबर से सामाजिक, राजनीतिक, मनोरंजन, खेल आदि से जुड़े समारोहों की अनुमति होगी, लेकिन एक छत के नीचे अधिकतम 100 लोग मौजूद रह सकेंगे. सिनेमा हॉल, स्विमिंग पुल, अंतरराष्ट्रीय उड़ानें (कुछ विशेष मामलों को छोड़कर) अभी भी बंद रहेंगे. 

अनलॉक-4 की गाइडलाइंस से जुड़ीं मुख्य बातें –

कंटेनमेंट जोन में 30 सितंबर तक लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराया जाएगा।

इंटर और इंट्रा स्टेट मूवमेंट पर अब कोई रोक नहीं होगी। किसी को भी देश में कहीं भी जाने के लिए अलग से अनुमति लेने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

सभी के लिए राष्ट्रीय स्तर पर दिए गए निर्देशों का पालन करना होगा। सोशल डिस्टेंसिंग रखना होगी। दुकानों पर ग्राहकों के बीच भी सोशल डिस्टेंसिंग रखना अनिवार्य है। इस पर गृह मंत्रालय खुद निगरानी रखेगा।

65 साल से ऊपर के लोगों, 10 साल की आयु से नीचे के बच्चों, गर्भवती महिलाओं, अन्य घातक बीमारियों से जूझ रहे लोगों को जब तक जरूरी न हो बाहर नहीं निकलने की सलाह दी गई है।

राज्य सरकारें अब बिना केंद्र सरकार की अनुमति के स्थानीय स्तर पर लॉकडाउन नहीं लगा पाएंगे। केवल कंटेनमेंट जोन में ही लॉकडाउन लगा सकेंगे।

21 सितंबर से ओपन एयर थिएटर खोलने की अनुमति होगी। 30 सितंबर तक स्कूल-कॉलेज बंद रहेंगे। इस समय तक ऑनलाइन और डिस्टेंस एजुकेशन को बढ़ावा दिया जाएगा।

कंटेनमेंट जोन के बाहर 21 सितंबर से अनुमति मिल सकती है। इसके लिए स्वास्थ्य मंत्रालय अलग से एसओपी जारी करेगा।

सभी राज्य सरकारें और केंद्र शासित सरकारें स्कूल और कॉलेजों में 50% टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ को बुला सकते हैं।

Share This Post