Binod Singh Funeral
बिहार

कटिहार: पंचतत्व में विलीन हुए विनोद सिंह, राजकीय सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कार, बेटी ने दी मुखाग्नि

कैबिनेट मंत्री विनोद सिंह का पार्थिव शरीर मंगलवार की सुबह 7:50 बजे उनके पैतृक गांव कटिहार के मनसाही प्रखंड के बथना गांव लाया गया। मंत्री का पार्थिव शरीर तिरंगे में लिपटे हुए एंबुलेंस के द्वारा पटना से उनके पैतृक गांव लाया गया। जिस एंबुलेंस में पार्थिव शरीर लाया गया उनके साथ उनके सहयोगी अरुण सिन्हा, सुशील कुमार सिंह, सुमित कुमार, पप्पू कुमार थे। पार्थिव शरीर जैसे ही बड़ी पैतृक आवास पहुंचा, माहौल गमगीन हो उठा। 

पत्नी निशा सिंह एवं उनके दो पुत्री और मां सहित परिवार के सभी सदस्य पार्थिव शरीर से लिपट कर रोने लगे। पार्थिव शरीर जैसे ही गांव पहुंचा, वहां मौजूद जनसैलाब विनोद सिंह के अंतिम दर्शन के लिए उमड़ पड़ा। गांव के साथ-साथ जिले एवं प्रदेश के अन्य जिलों से भी लोगों का बड़ी बथना गांव आना लगा रहा। मनिहारी के गंगा तट पर राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया। छोटी बेटी क्रिस्टी ने उन्हें मुखाग्नि दी।vinod singh  vinod singh  39 s funeral  katihar  vinod singh  39 s death  funeral with state honors

स्वर्गीय विनोद सिंह को पुलिस जवानों द्वारा गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। गांव और गंगा तट पर मंत्री विनोद सिंह अमर रहे के नारे से गूंज उठा। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सह सांसद डॉक्टर संजय जायसवाल, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, विधायक तार किशोर प्रसाद, एमएलसी अशोक कुमार अग्रवाल, सम्राट चौधरी, पूर्व मंत्री निखिल चौधरी, विधायक पूनम पासवान, पूर्व एमएलसी राजवंशी सिंह समेत बड़ी संख्या में लोगों ने स्वर्गीय सिंह के पार्थिव शरीर पर पुष्प-च्रक अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। 

प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने कहा कि पार्टी ने एक सच्चे कार्यकर्ता को खो दिया है। दिवंगत  आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की। मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि विनोद सिंह के निधन से पार्टी के साथ-साथ समाज को बड़ी क्षति हुई है। ईश्वर दुःख की घड़ी में परिवार को सहन शक्ति प्रदान करें। उनकी अंतिम यात्रा मनसाही प्रखंड के बड़ी बथना आवास से दोपहर 12:30 बजे निकली। काफी संख्या में सभी वर्ग के लोग मनिहारी गंगा घाट तक साथ गये। भीड़ को देखते हुए सुरक्षा के लिये पुख्ता प्रबंध किये गए थे।

Share This Post