बिज़नेस

PM Kisan की सातवीं किस्त का कर रहे इंतजार तो यहां जानें कहां अटका है आपका 2000 रुपया

एक दिसंबर से 31 मार्च के बीच पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम की सालाना तीसरी किस्त सरकार जारी करती है। यानी 7वीं किस्त का करोड़ों किसानों को अब भी इंतजार है। दरअसल इनके खाते में  एक दिसंबर से 2000 रुपये की किस्त आने वाली थी मगर अभी तक नहीं आई। तो आइए जानें आपकी किस्त कहां अटकी हुई है।

ऐसे भेजा जाता है पीएम किसान निधि का पैसा

पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम के तहत आपको पैसे तभी मिलेंगे जब आपकी राज्य सरकार आपके रेवेन्यू रिकॉर्ड, आधार नंबर और बैंक अकाउंट नंबर को सही पाकर उसे वेरीफाई कर दे। कृषि स्टेट सबजेक्ट होने की वजह से लाभ तब तक नहीं मिलेगा जब तक कि राज्य सरकार आपके रिकॉर्ड को अपनी ओर से वेरीफाई न कर दे। राज्य सरकार के वेरीफाई करने के बाद FTO जेनरेट होता है और केंद्र सरकार पैसा खाते में डाल देती है। तो देर किस बात की। अभी चेक करें कि आपकी किस्त कहां अटकी हुई है। राज्य सरकार के पास या केंद्र सरकार के पास?

ऐसे जानें कहां अटका है पैसा

  • पहले पीएम किसान (PM Kisan) की आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर जाएं।
  • यहां आपको राइट साइड पर ‘Farmers Corner’ का विकल्प मिलेगा
  • यहां ‘Beneficiary Status’ के ऑप्शन पर क्लिक करें। यहां नया पेज खुल जाएगा।
  • नए पेज पर आधार नंबर, बैंक खाता संख्या या मोबाइल नंबर में से किसी एक विकल्प को चुनिए।
  • आपने जिस विकल्प का चुनाव किया है, उसका नंबर भरिए। इसके बाद ‘Get Data’ पर क्लिक करें।
  • यहां क्लिक करने के बाद आपको सभी ट्रांजेक्शन की जानकारी मिल जाएगी। यानी कौनसी किश्त कब आपके खाते में आई और किस बैंक अकाउंट में क्रेडिट हुई।  
  • सातवीं किस्त से जुड़ी जानकारी भी आपको यहां मिल जाएगी। 
  • यह भी पढ़ें: PM Kisan की 7वीं किस्त का नहीं मिलेगा पैसा अगर आपने भी किया है ऐसा

यदि आपको ‘FTO is generated and Payment confirmation is pending’ लिखा हुआ दिख रहा है तो इसका मतलब है कि फंड ट्रांसफर की प्रक्रिया शुरू हो गई है। ये किस्त कुछ ही दिनों में आपके खाते में ट्रांसफर हो जाएगी। अगर Waiting for approval by state लिखा है तो राज्य सरकार के पास मामला अटका हुआ है और पैसे मिलने में थोड़ी देर लगेगी।

बता दें कि पीएम किसान सम्मान योजना में केंद्र सरकार तीन किस्तों में यह पैसा ट्रांसफर करती है पहली किस्त 1 दिसंबर से 31 मार्च के बीच आती है, जबकि दूसरी किस्त 1 अप्रैल से 31 जुलाई और तीसरी किस्त 1 अगस्त से 30 नवंबर के बीच में किसानों के खाते में ट्रांसफर कर दी जाती है। अगर सारे कागजात सही है तो सभी 11.33 करोड़ रजिस्टर्ड किसानों को सातवीं किस्त का लाभ भी मिलेगा।

लिस्ट में ऑनलाइन देखने के लिए आसान स्टेप

  • वेबसाइट pmkisan.gov.in पर जाएं। 
  • होम पेज पर मेन्यू बार देखें और यहां ‘फार्मर कार्नर’ पर जाएं। 
  • यहां ‘लाभार्थी सूची’ के लिंक पर क्लिक करें।
  • इसके बाद अपना राज्य, जिला, उप-जिला, ब्लॉक और गांव विवरण दर्ज करें
  • इतना भरने के बाद Get Report पर क्लिक करें और पाएं पूरी लिस्ट

लिस्ट में नाम न होने पर इस नंबर पर करें शिकायत

कई लोगों के नाम पिछली लिस्ट में था, लेकिन नई लिस्ट में नहीं है तो इसकी शिकायत आप पीएम किसान सम्मान के हेल्पलाइन नंबर पर दर्ज करा सकते हैं। इसके लिए आप हेल्पलाइन नंबर 011-24300606 पर कॉल कर सकते हैं। 

  • पीएम किसान टोल फ्री नंबर: 18001155266
  • पीएम किसान हेल्पलाइन नंबर:155261
  • पीएम किसान लैंडलाइन नंबर्स: 011—23381092, 23382401
  • पीएम किसान की नई हेल्पलाइन: 011-24300606
  • पीएम किसान की एक और हेल्पलाइन है: 0120-6025109
  • ई-मेल आईडी: [email protected]

इन्हें नहीं मिलेगा पैसा

केंद्र या राज्य सरकार में अधिकारी एवं 10 हजार से अधिक पेंशन पाने वाले किसानों को लाभ नहीं मिलेगा. पिछले वित्तीय वर्ष में इनकम टैक्स का भुगतान करने वाले किसान भी इसके लाभ से वंचित होंगे। डॉक्टर, इंजीनियर, सीए, वकील, आर्किटेक्ट, वर्तमान या पूर्व मंत्री, मेयर, जिला पंचायत अध्यक्ष, विधायक, एमएलसी, लोकसभा और राज्यसभा सदस्यों को स्कीम से बाहर रखा गया है।

Share This Post