समस्तीपुर

समस्तीपुर में झमाझम बारिश के बाद मिली गर्मी से राहत, जलजमाव से बढ़ी मुसीबत

समस्तीपुर । बुधवार को हुई झमाझम बारिश से जहां लोगों को उमस और गर्मी से राहत मिली। वहीं दूसरी ओर बारिश के पानी से जगह-जगह जलजमाव की समस्या उत्पन्न हो गई हैं। शहर के कई इलाके के लोग जलजमाव की पीड़ा झेल रहे हैं। गली मुहल्लों में जमा पानी निकलने में नाले अक्षम साबित हो रहे हैं। नगर परिषद के नालों का उड़ाही का फायदा भी शहरवासियों को नहीं मिल रहा है। बारिश के पानी से कई वार्डों में बाढ़ जैसा नजारा उत्पन्न हो गया है। जिससे लोगों की मुसीबतें बढ़ गई है। सड़कों पर घुटने भर से अधिक पानी में लोग आ जा रहे हैं। शहर के बीएड कॉलेज का इलाका बारिश के पानी में पूरी तरह जलमग्न हो चुका है। बीएड कालेज का परिसर भी जलजमाव से घिर चुका है। वहीं दूसरी ओर काशीपुर से सोनवर्षा चौक जाने वाले मार्ग पर घुटने भर से अधिक पानी जमा है। पैदल चल लोगों को भी आने जाने में फजीहत हो रही है। कई बार बाइक सवार व पैदल चल रहे लोग गिर कर चोटिल भी हो चुके हैं। इसके अलावे बीर कुंवर सिंह कॉलोनी, काशीपुर, बारहपत्थर, गुदरी बाजार, धर्मपुर मुहल्ले में भी जलजमाव की समस्या से लोग जूझ रहे हैं। बारिश के वजह से लोग जलजमाव की समस्या से घिर चुके हैं।

बारिश होते ही झील बन जाते हैं मुहल्ले

बारिश होते ही शहर के कई मुहल्ले झील में तब्दील हो जाते हैं। बुधवार को हुई बारिश से एक बार फिर काशीपुर, बीएड कॉलेज, धर्मपुर, गुदरी बाजार, काशीपुर से सोनवर्षा चौक जाने वाली सड़क, बारहपत्थर मुहल्ला पानी में डूब गया है। शहर की एक दर्जन गलियों में पानी जमा हो गया है।

जलजमाव व गंदगी से बढ़ा मच्छरों का प्रकोप

नालियों में जमा गंदगी और बरसाती पानी से मच्छरों का आतंक बढ़ गया है। जगह जगह बरसात के गंदे पानी से मच्छरों की फौज दिन दुगुनी रात चौगुनी बढ़ रही है। लोगों को रात की निद हराम कर रखी है। बीमारियों के भय से लोग दिन में मच्छरदानी तथा मच्छर भगाने वाले क्वायल का प्रयोग करते हैं।

Share This Post