Who
राष्ट्रीय

WHO की चेतावनी- पहले से अधिक कठिन हो सकता है कोरोना का दूसरा साल

दुनिया को कोरोना संक्रमण से थोड़ी राहत मिली है। मामले कम हुए हैं, साथ ही कई देशों में टीकाकरण भी शुरू हो चुका है। भारत में भी 16 जनवरी से इसका आगाज होने जा रहा है। इसको लेकर तैयारी पूरी हो चुकी है। विभिन्न शहरों में वैक्सीन पहुंचाई जा रही है। इस सबके बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है कि कोरोना महामारी का दूरसरा साल पहले की तुलना में अधिक कठिन हो सकता है।

डब्ल्यूएचओ हेल्थ इमर्जेंसी प्रोग्राम के कार्यकारी निदेशक माइकल रेयान ने कहा कि कोरोनो वायरस महामारी का दूसरा वर्ष ट्रांसमिशन डायनामिक्स पर पहले की तुलना में अधिक कठिन हो सकता है। रयान ने बुधवार देर शाम एक सवाल-जवाब सत्र के दौरान कहा, “हम दूसरे वर्ष में जा रहे हैं, यह ट्रांसमिशन डायनेमिक्स और कुछ मुद्दों को देखते हुए कठिन हो सकता है।”

जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के अनुसार, विश्व स्वास्थ्य संगठन ने 11 मार्च को COVID-19 के प्रकोप को एक महामारी घोषित किया था। आज तक दुनिया में 9.21 करोड़ से अधिक लोग कोरोनो वायरस से संक्रमित हैं। इनमें से 19.7 लाख मरीजों की स्थिति अधिक घातक है।

Share This Post